हज यात्रा के नाम पर एजेंट ने की 75 लाख की धोखाधड़ी - madhyabhumi

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, August 9, 2018

हज यात्रा के नाम पर एजेंट ने की 75 लाख की धोखाधड़ी

जबलपुर। शहर से हजयात्रा करने के लिए तैयार 10 मुस्लिम परिवारों को टिकट बुकिंग करने के नाम पर एजेंट ने 75 लाख की धोखाधड़ी की। इस वारदात का खुलासा कुछ लोगों के हैदराबाद पहुंचने पर हुआ। तब वह शहर लौट आए और बुधवार की रात 9.30 बजे गोहलपुर थाने में अरशद ट्रेव्हल्स के एजेंट के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करा दी।
गोहलपुर टीआई महेन्द्र सिंह ने बताया कि मंसूराबाद, रद्दी चौकी, नई बस्ती और नरसिंहपुर निवासी मुस्लिम परिवार के सदस्यों ने हजयात्रा पर जाने की तैयारी की। इसमें सभी 10 परिवारों के मुखिया शहर के एजेंट शमीम के संपर्क में आ गए। उन्हें एजेंट शमीम ने हजयात्रा करने का प्रति व्यक्ति किराया दो लाख 90 हजार रुपये बताया। साथ ही उनकी हैदराबाद के टिकट बुकिंग एजेंट अरशद से फोन पर बात कराई। एजेंट के कहने पर उन्होंने 26 लोगों के टिकट बनाने कुल 75 लाख 40 हजार रुपए दिए गए बैंक एकाउंट नंबर में जमा कर दिए।
एजेंट अरशद ने इन परिवारों को करीब दो सप्ताह पहले फोन पर जानकारी दी कि टिकट बुकिंग की राशि मिल गई है। आप सभी 26 लोगों के पासपोर्ट लेकर एक सप्ताह बाद हैदराबाद आ जाएं। यहां सबके अलग-अलग टिकट बनाकर दिए जाएंगे। इसके बाद मुस्लिम परिवार के सदस्य हैदराबाद पहुंचे, लेकिन वहां पर उन्हें एजेंट अरशद नहीं मिला। दो दिन ठहरकर इंतजार करने के बाद सब लोग लौटकर आ गए।

धोखाधड़ी के शिकार परिवार -
गोहलपुर थाने में हैदराबाद के टिकट बुकिंग एजेंट के खिलाफ 10 परिवारों ने धोखाधड़ी की शिकायत की है। शिकायत करने वालों में शहर के मंसूराबाद, रद्दी चौकी, नईबस्ती गोहलपुर के निवासी सरदार हकीम बाबा, मंजूर अहमद, इश्तिखार अहमद, शकील अहमद, मोहम्मद हसन, अतीक अहमद, मोहम्मद शब्बीर, मोहम्मद ताहिर, मकबूल अहमद और नरसिंहपुर निवासी जफर जलसा शामिल हैं।

हजयात्रा पर जाने वाले 10 परिवारों ने हैदराबाद के एजेंट अरशद के बैंक खाते में 75 लाख से ज्यादा राशि जमा कराई। एजेंट के अचानक गायब होने से पीड़ितों ने धोखाधड़ी की शिकायत की, जिसकी जांच की जा रही है।
- सीताराम यादव, सीएसपी गोहलपुर

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here